यूपी के फतेहपुर का रहने वाला है 1000 लोगों का धर्मपरिवर्तन कराने वाला शख्श, 35 साल पहले श्याम सिंह से बना था मौलाना उमर

धर्मांतरण गिरोह का मास्टरमाइंड मौलाना उमर गौतम मूलतः यूपी के फतेहपुर का रहने वाला है।

लखनऊ( Uttar Pradesh)- धर्मांतरण गिरोह का मास्टरमाइंड मौलाना उमर गौतम मूलतः यूपी के फतेहपुर का रहने वाला है। उसने यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान मुस्लिम धर्म अपना लिया था। एटीएस की सूचना के बाद रात करीब नौ बजे थाना पुलिस ने उसके गांव पहुंचकर जानकारी जुटाई।

यूपी के फतेहपुर के पंथुआ गांव के मजरा रमवा गांव के स्व. धनराज सिंह गौतम का बेटा श्याम प्रताप सिंह ने करीब 35 साल पहले उसने पंतनगर यूनिवर्सिटी से बीएससी एग्रीकल्चर की पढ़ाई पूरी की। इसके बाद विधि की पढ़ाई के लिए अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में प्रवेश लिया। वहां पढ़ाई के दौरान श्याम प्रताप इस्लाम धर्म की तरफ आकर्षित हो गया।

1982 में बदल लिया था अपना धर्म

वर्ष 1982 में मुस्लिम धर्म अपना कर श्याम सिंह ने अपना नाम मौलाना उमर गौतम रख लिया। करीब डेढ़ साल पहले धनराज सिंह का निधन हो गया था। पिता के निधन की खबर पर मौलाना उमर गौतम गांव आया था। उनकी वेशभूषा देखकर गांव वाले भी दंग रह गए थे। इसके बाद उसे गांव में नहीं देखा गया।

धर्म बदलने के बाद पहली पत्नी को छोड़ की मुस्लिम महिला से शादी

श्याम प्रताप सिंह की पहली पत्नी से दो बच्चे भी थे। उमर के मुस्लिम धर्म अपनाने के बाद ससुर ने बेटी को नहीं भेजा। क़रीब दस साल वह मायके में रही। बाद में उमर के साथ दिल्ली चली गईं। उमर ने दिल्ली में मुस्लिम महिला से दूसरी शादी कर ली थी। दूसरी पत्नी से एक बेटी व दो बेटे हैं। 

ATS को दी जाएगी गांव में पड़ताल में आई हकीकत- एसपी

एसपी सतपाल अंतिल ने बताया गांव में जुटाई गई जानकारी एटीएस को दी जाएगी। जिले में मोहम्मद उमर के लिंक भी खोजे जा रहे हैं। उसका परिवार से कोई वास्ता होना सामने नहीं आया है।