आपको बता दें कि भारत बायोटेक को दवा नियामक डीसीजीआई से 11 मई को बच्चों पर क्लीनिकल ट्रायल की मंजूरी मिली थी। इसके बाद बीते हफ्ते एम्स पटना ने 2 से 18 साल की उम्र के बच्चों पर कोवैक्सीन का ट्रायल शुरू किया था।

दिल्ली।  एम्स में आज से बच्चों पर वैक्सीन का ट्रायल शुरू हो रहा है। इसमें 2 से 18 साल के बच्चों को शामिल किया जाएगा। पहले चरण में कुल 17 बच्चों पर ट्रायल होगा। ट्रायस सफल होने पर बच्चों में टीकाकरण की शुरुआत की जाएगी। 

एम्स प्रशासन के मुताबिक, सोमवार सुबह 9 बजे से यह ट्रायल शुरू होगा। आठ सप्ताह में इसको पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। ट्रायल के लिए पहले बच्चों की स्क्रीनिंग होगी, उन्हें पूरी तरीके से स्वस्थ पाए जाने के बाद ही टीका लगाया जाएगा। ट्रायल के कई चरण में होंगे। पहले चरण में 17 बच्चों को शामिल किया जाएगा। 

बच्चों को भारत बायोटेक और आईसीएमआर की कोवाक्सिन की खुराक दी जाएगी। इससे पहले पटना के एम्स में भी वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है। वहां 3 जून को तीन बच्चों को वैक्सीन की पहली डोज लगाई गई थी। विशेषज्ञों ने कोरोना की तीसरी लहर में बच्चों के लिए अधिक खतरनाक बताया है। ऐसे में बच्चों का टीका उन्हें संक्रमण से बचाने में काफी मददगार हो सकता है।

आपको बता दें कि भारत बायोटेक को दवा नियामक डीसीजीआई से 11 मई को बच्चों पर क्लीनिकल ट्रायल की मंजूरी मिली थी। इसके बाद बीते हफ्ते एम्स पटना ने 2 से 18 साल की उम्र के बच्चों पर कोवैक्सीन का ट्रायल शुरू किया था।

YOUR REACTION?

Facebook Conversations



Disqus Conversations